विश्वविद्यालय में रैगिंग एवं भ्रष्टाचार के खिलाफ विद्यार्थी एकजुट

सर्वदलीय छात्र मोर्चा ने किया विवि के मुख्य कार्यालय का घेराव
सागर। डॉ. हरिसिंह गौर केंद्रीय विश्वविद्यालय सागर में मासूम एवं जूनियर छात्रों की रैगिंग एवं व्यापक पैमाscreenshot_2016-11-18-17-34-58-13ने पर व्याप्त भ्रस्टाचार तथा सुरक्षा व्यवस्था के मुद्दों पर सर्वदलीय छात्र मोर्चा द्वारा विश्वविद्यालय मुख्यालय का घेराव किया गया। घेराव के दौरान विश्वविद्यालय प्रशासन के विरुद्ध जमकर नारेबाजी की गयी और आंदोलनकारी मुख्यालय के गेट पर बैठ गए। कुछ समय बाद विश्व विद्यालय प्रशासन की ओर से प्रॉक्टर एपी दुबे, डीएसडव्लू  पीपी सींग, आशीष वर्मा, हास्टल वार्डन एसके गुप्ता ने छात्रों से बातचीत की उक्त बातचीत में सिविल लाइन टीआई मंजू सिंह भी शामिल रही।
छात्रो की मांग की
रैगिंग के दोषियों को विश्विद्द्यालय से निष्काषित एवं प्रतिबंधित किया जाये। बंद पड़े सी सी टी व्ही कैमरो को चालू किया जाये। फर्जी नियुक्तियों की जांच तेज कर दोषियों को जेल भेजा जाये। रुके हुए रजिल्ट शीघ्र घोषित किये जाये। हास्टल में सुरक्षा के पुख्ता बंदोवस्त किये जाये। 6 केम्पस में एवं विभाग में रैगिंग जैसी घटना को रोका जाये। छात्राओं की सुरक्षा के इंतजाम किये जाये।
उपरोक्त सभी मांगो पर छात्रों एवं विश्वविद्यालय प्रशासन के बीच लगभग आधे घण्टे की चर्चा के दौरान सहमती बनी तथा आंदोलन इस आश्वासन के साथ कि मंगलवार तक कुछ मांगे पूरी की जायेगी, स्थगित किया गया। आंदोलन के दौरान छात्राओ ने भी सुरक्षा की मांग कर आंदोलन को समर्थन दिया। आंदोलन में डॉ. धरणेन्द्र जैन, दीपक भंडारी, राहुल खरे, अरुण उपाध्याय, ज्योतिष पांडे, कुमारी महिमा खत्री, पूर्वा मिश्रा, सोनाली,  रक्षा मिश्रा, करिश्मा कन्नौजिया, साक्षी जैन, अदिति जैन, रीतेश गुरु, राहुल रैकवार, बैभव यादव, शुभम नामदेव, चंद्रेश राजपूत, अभिषेक चोरसिया, शाहरुख़ खान, आयुष परिहार, ऋषि प्रताप बुंदेला, अजय मिश्रा, सत्यम चतुर्वेदी, अभय राजपूत, अमित पटेल, दुर्गेश साहू, योगेन्द्र जाटव, दिनेश तिवारी, चेतन सिंह पटेल, अभिजीत पटेल, सुरेन्द्र राणा, हेमंत चौरसिया, सादिक राणा, अर्जुन अहिरवार, रीतेश ठाकुर, कृष्णानंद खटीक, मिथलेश राजपूत, अमन गौतम, अजय बाल्मीकि, अर्पित अवस्थी सहित सैकड़ो छात्र-छात्राएं सम्मिलित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *