फर्जी मेडिकल स्टोर चालक द्वारा लोगों की जिंदगी से खिलवाड़

Ravi soni गढ़ाकोटा। नगर के समीप के गांव चनौआ में एक फर्जी मेडिकल स्टोर चालक द्वारा लोगों की जिंदगी से खिलवाड़ किया जा रहा है। फर्जी तरीके से मेडिकल चला रहे सतीश जैन द्वारा गांव के ही बफाती पिता सलीम खान व्यक्ति को बुखार की इलाज के लिए मनमर्जी तरीके से दवाई दे दी। जिसे खाने के बाद युवक के हाथ पैर सुन्न पड़ गए। जिससे घबड़ाए परिजन युवक को इलाज के लिए गढ़ाकोटा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए जहां डॉक्टरों ने गंभीर अवस्था में युवक को भर्ती कर लिया है
वही मेडिकल स्टोर के मालिक से जब मेडिकल के दस्तावेज मांगे गए तो मालिक सतीश जैन द्वारा बताया गया कि यह मेडिकल किसी शुभम पाराशर के नाम से रजिस्टर्ड है और उसी के पास दस्तावेज हैं और इस मेडिकल के मालिक मेरे बड़े भाई अशोक कुमार जैन है जो एक फार्मासिस्ट हैं और मैंने बफाती के लिए बुखार की नॉर्मल जेनेरिक दवाई दी थी जो कि उसके द्वारा ही मुझसे मांगी गई थी।
वही सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के डॉक्टर सुरेश सिंघई का कहना है कि युवक के द्वारा अनुचित दबाएं लिए जाने से ही यह हालत हुई है मरीज की हालत गंभीर है जिसका इलाज किया जा रहा है।

जा रहा है। फर्जी तरीके से मेडिकल चला रहे सतीश जैन द्वारा गांव के ही बफाती पिता सलीम खान व्यक्ति को बुखार की इलाज के लिए मनमर्जी तरीके से दवाई दे दी। जिसे खाने के बाद युवक के हाथ पैर सुन्न पड़ गए। जिससे घबड़ाए परिजन युवक को इलाज के लिए गढ़ाकोटा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए जहां डॉक्टरों ने गंभीर अवस्था में युवक को भर्ती कर लिया हैl वही मेडिकल स्टोर के मालिक से जब मेडिकल के दस्तावेज मांगे गए तो मालिक सतीश जैन द्वारा बताया गया कि यह मेडिकल किसी शुभम पाराशर के नाम से रजिस्टर्ड है और उसी के पास दस्तावेज हैं और इस मेडिकल के मालिक मेरे बड़े भाई अशोक कुमार जैन है जो एक फार्मासिस्ट हैं और मैंने बफाती के लिए बुखार की नॉर्मल जेनेरिक दवाई दी थी जो कि उसके द्वारा ही मुझसे मांगी गई थी।
वही सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के डॉक्टर सुरेश सिंघई का कहना है कि युवक के द्वारा अनुचित दबाएं लिए जाने से ही यह हालत हुई है मरीज की हालत गंभीर है जिसका इलाज किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *