बच्चें-बुजुर्ग परेशान, सहयोगी गाड़ी में बैठकर कर रहे मौज

सरकार के स्वच्छता मिशन पर लगा रहे बट्टा
सागर। मकरोनिया नगर पालिका में स्वच्छता स्वच्छ भाscreenshotd-copyरत का इरादा कर लिया देश से अपने ये वादा कर लिया हमने। कूड़ा रहित और स्वच्छ रखने में सहयोग करें। स्वच्छ मकरोनिया, स्वच्छ भारत के स्लोगन से जन-जन को चेताने वाले अभियान में मकरोनिया नगर पालिका के अधिकारी, कर्मचारियों और सफाई कर्मियों में साफ-सफाई के प्रति रूचि नहीं दिख रही  है। स्वच्छता के नाम पर लाखों खर्च होने के बाद भी अधिकांश वार्डांे में गंदगी का आलम है। कभी कचड़ा गाड़ी वार्डों में पहुंंच रही है कभी नहीं। लोग कचड़ा लेकर बैठे इंतजार करते रह जाते है। दूसरी ओर कचड़ा गाड़ी में हेल्पर निगम से वेतन लेकर मजे से इस वाहन में बैठकर लुफ्त और पर्यटनगिरी कर रहे है। इन कचड़ा गाड़ी में बैठे निगम के तहत कार्य करने वाले लोगों की भाषा शैली से ऐसा प्रतीत होता है कि इन्हें नगर पालिका के मुख्य नगर पालिका अधिकारी, और जनप्रतिनिधियों का कोई डर नहीं।
बुजुर्ग, महिलाएं, बच्चें कचड़े की टोकरिया लेकर वाहन में डालते है और कई दफा इस कचड़े से खुद को गंदा कर लेते है। दूसरी तरफ जन के सहयोग के लिये पैसे लेने के बाद भी गाड़ी में बैठे हेल्पर अपने काम से मुकर रहे है। इसी तरह कुछ वार्ड नम्बर 2 में कचड़ा उठाने वाली गाड़ी से लोग परेशान है। लोगों का कहना है कि हेल्पर गाड़ी में बैठकर तफरी करने आते है या लोगों का सहयोग। इस संबंध में मकरोनिया वार्ड नम्बर 2 के निवासी नवीन विश्वे, मोहनलाल अहिरवार, मुकेश गिरी, अमोद, प्रमोद श्रीवास्तव, आशीष पटेल सहित कुछ लोगों ने गाड़ी चालक और हेल्पर से कचड़ा उठाने में और लोगों के संबंध में पूछा तो हेल्पर द्वारा न तो अपना नाम बताया गया और बड़ी अकड़ के साथ कहा कि तुम लोगों को इससे क्या करना। गाड़ी में कुछ दिनों ेसे हेल्पर को भी बदलकर लाया जाता है और लोगों द्वारा पूछे जाने वह अपना नाम तक नहीं बता रहा जिस पर वार्डवासियों द्वारा शंका जाहिर की जा रही है कि कहीं कुछ गलत तो नहीं है।
अमूमन मकरोनिया के सभी वार्डों में गंदगी का आलम है। नगर पालिका के अधिकारी इस और ध्यान नहीं दे रहे है। कुछ दिनों पहले कांग्रेसियों ने भी गंदगी को लेकर शिकायत की थी। जिसके बाद भी कोई ठोस बदलाव देखने में नहीं आ रहा है। गाड़ी के चालक हेल्पर द्वारा पूछे जाने पर गलत जानकारियां भी दी जा रही है। जिसमें वह वार्ड के ही लोगों पर आक्षेप लगा रहे है कि घर से कचड़ा उठाने के लिये कहा जाता है। बाहरहाल मुहल्लावासियों ने समस्या का निदा नहीं होने की स्थिति में कार्यालय में शिकायत कर आगे की कार्यवाही की भी बात कही है।
इनका कहना है
वार्ड में यदि साफ-सफाई में कोताही और गाड़ी के हेल्पर और चालक द्वारा मनमानी की जाती है तो कठोर कार्यवाही की जायेगी।
पीसी राय, नगर पालिका अधिकारी
नगर  पलिका परिषद मकरोनिया
लोगों ने वार्ड के पार्षद कौशल्या राजेश्वर सेन से इसकी शिकायत मोबाइल से की जिस पर उनका कहना है कि हेल्पर को गंदगी साफ करने में और बुजुर्ग, बच्चों का सहयोग करना होगा। ऐसा नहीं करने पर कार्यवाही मांग करेंगे। श्री सेन ने मोबाइल पर समझाईस भी दी।
श्रीमति कौशल्या राजेश्वर सेन
वार्ड पार्षद वार्ड क्र. 2 मकरोनिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *